बुधवार, 15 अप्रैल 2015

445 . जो कहते हो वो करते नहीं

४४५ 
जो कहते हो वो करते नहीं 
करें क्या फिर तुमसे आशा 
माया नाम है एक धोखा 
निर्मेष हो देखे जा तमाशा !

सुधीर कुमार ' सवेरा ' 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें